RAJASTHANI FILM KESAR KASTOORI का मुहुर्त, पोस्टर भी किया लांच

RAJASTHANI FILM KESAR KASTOORI का मुहुर्त, पोस्टर भी किया लांच

by shivraj gurjar

RAJASTHANI FILM KESAR KASTOORI का मुहुर्त, पोस्टर भी किया लांच


जयपुर। दुर्गापुरा स्थित होटल फोर्ट बुधवार को फिल्म केसर कस्तूरी का मुहूर्त हुआ। इस मौके पर फिल्म का पोस्टर भी लॉन्च किया गया। अभिनेता श्रवण सागर और विप्रा मेहता की मुख्य भूमिका वाली इस रोमांटिक फिल्म का निर्देशन खुशवेंद्र सिंह और सागर कर रहे हैं। विकास सिरोही और पी. के. सोनी इसे प्रोड्यूस कर रहे हैं।

मुहूर्त कार्यक्रम में फिल्म की पूरी टीम मौजूद रही। राजस्थानी सिनेमा विकास संघ के संरक्षक विपिन तिवारी भी हौसला बढ़ाने पहुंचे। कार्यक्रम की शुरुआत में अभिनेता श्रवण सागर ने फिल्म की संक्षिप्त रूपरेखा बताई। उन्होंने बताया कि यह एक प्रेम कहानी है, लेकिन यह इस तरह से ट्रेवल करती है कि इसमें न केवल संपूर्ण राजस्थान का पर्यटन प्रमोट होगा बल्कि राजस्थान की कला एवं संस्कृति भी उभरकर सामने आएगी।

एक्शन और इमोशन के बाद अब रोमांटिक सागर

एक्शन और इमोशनल जोन की फिल्में करने वाले श्रवण सागर केसर कस्तूरी से रोमांटिक किरदार निभाने जा रहे हैं। सागर ने बताया कि उन्होंने अब तक जितनी भी फिल्में की हैं वो या तो एक्शन जोनर की थीं या फिर इमोशंस वाली थीं। चाहे वह पटेलण हो, शंखनाद हो या फिर पगड़ी। अब केसर कस्तूरी में ऐसा किरदार है कि इसमें मुझे रोमांस करने को मिलेगा। एक खिलंदड़ युवा का किरदार निभाने का मौका मिलेगा जिसके जीवन में प्यार एक ऐसी लहर बनके आता है कि उसका सब कुछ बदल जाता है। सागर ने बताया कि यह रोल उनके द्वारा अब तक निभाए गए किरदारों से एकदम अलग है। यह मेरे दिल के करीब है। मैंने कहानी सुनने के बाद एक पल भी नहीं सोचा और सीधे हां कह दी।

विप्रा हीरोइन के रूप में कर रही है डेब्यू

अब तक चाइल्ड आर्टिस्ट के रूप में अपने अभिनय से दर्शकों के दिल में एक अलग जगह बना चुकी विप्रा मेहता अब हीरोइन के रूप में राजस्थानी फिल्मों में डेब्यू करने जा रही हैं। फिल्म है केसर कस्तूरी। इसमें विप्रा के अपोजिट अभिनेता श्रवण सागर हैं। विप्रा इस फिल्म में कस्तूरी का लीड कैरेक्टर प्ले कर रही हैं। विप्रा ने कहा कि-केसर कस्तूरी को लेकर में बहुत ज्यादा एक्साइटेड हूं। अब तक लोगों ने मुझे एक बाल कलाकार के रूप में देखा है, लेकिन इसमें वो मुझे एक अलग ही रूप में देखेंगे। मुझे उम्मीद है कि जैसे अब तक दर्शकों का प्यार मिलता आया है आगे भी इसी तरह मिलता रहेगा।

अलग ही रूप में दिखेगा राजस्थान

फिल्म के निर्देशक खुशवेंद्र सिंह ने कहा कि मैं जब भी किसी बाहरी आदमी से राजस्थान के बारे में बात करता था तो वो बस रेगिस्तान के बारे में ही जानना चाहता था। उसकी नजर में रेगिस्तान ही राजस्थान है। बस लोगों की इसी सोच को तोडऩे के लिए हमने इस कहानी पर काम किया है कि राजस्थान में सिर्फ रेगिस्तान ही नहीं ऐसा बहुत कुछ है जो देखने लायक है। महसूस करने लायक है। इसमें दीपक मेड़तवाल ने मेरा भरपूर साथ दिया। उन्होंने वो सबकुछ निकाला जो मैं और हमारी टीम चाहती थी। 

ऐसा ही सब्जेक्ट चाहिए था शुरुआत के लिए

निर्माता विकास सिरोही ने बताया था कि वे बहुत समय से फिल्म निर्माण में उतरना चाह रहे थे, लेकिन ऐसा कोई सब्जेक्ट पकड़ में नहीं आ रहा था जो एक बार में ही क्लिक कर जाए। केसर कस्तूरी की कहानी जब मैंने सुनी तो सुनते ही दिल ने कहा यही तो वह फिल्म है जो मैं बनाना चाहता था। बस फिर क्या था। लोग मिलते गए और कारवां बनता गया। 


यह भी पढ़ें

एएनएम पाठ्यक्रम में प्रवेश के फॉर्म एक अक्टूबर से भरे जाएंगे

कोई टिप्पणी नहीं

Blogger द्वारा संचालित.